योगी सरकार के फैसले पर सियासत शुरू, मुस्लिम धर्म गुरुओं ने उठाए सवाल

National anthem

उत्तर प्रदेश में मदरसा शिक्षा परिषद ने आदेश दिए हैं कि, स्वतंत्रता दिवस पर सुबह आठ बजे झंडारोहण एवं राष्ट्रगान होगा और आठ बजकर 10 मिनट पर अमर शहीदों को श्रद्धांजलि दी जाये। इसके साथ ही कार्यक्रमों की फोटोग्राफी और वीडियोग्राफी भी की जाये ,अब इस फैसले ने तूल पकड़ लिया है।

घर में घुसा ऐसा जीव कि पूरे इलाके में मची भगदड़ः देखें तस्वीरें

दरअसल, मदरसा शिक्षा परिषद द्वारा दिए गए आदेश पर मुस्लिम धर्म गुरुओं ने सवाल उठाएं हैं और आपत्ति जताई है कि, आखिर वीडियोग्राफी कराकर सरकार क्या साबित करना चाहती है ?

वहीं, परिषद् के इस फैसले पर मुस्लिम धर्म गुरु साजिद रशीदी ने कहा, ‘यूपी में दो तरह के मदरसें हैं, एक सरकार के दायरे में आते हैं और दूसरे वो जो सरकार के दायरे से बाहर हैं फिर भी झंडा सभी फहराते हैं। ऐसे में आदेश जारी करना तुगलकी फरमान जारी करने जैसा है।’

पुलिस कस्टडी में आरोपी सपा नेता के पिता की मौत, परिजनों का हंगामा

यूपी सरकार के इस फैसले पर राजनीति शुरू हो चुकी है। इस फैसले पर कांग्रेस नेता मीम अफजल ने कहा, ‘आप एक धर्म को टारगेट करके उसको कॉर्नर करने की कोशिश कर रहे हैं, इन सब बातों को कंडम करने की जरुरत है। इन सभी बयानों पर बीजेपी नेता शलभमणि त्रिपाठी ने कहा है कि, ‘सिर्फ मदरसों को ही नहीं ये आदेश सभी विभागों को जारी किया गया है। सभी जगह कहा गया है कि स्वतंत्रता दिवस को धूम-धाम से मनाया जाए, लेकिन कुछ लोग दूसरों को बरगलाने की कोशिश कर रहे हैं।’

योगी सरकार द्वारा लिए गए फैसले पर विपक्ष को मौका मिल गया है सरकार पर सवाल उठाने का, अब देखना ये होगा कि इस विषय पर शुरू हुई चर्चा कहां तक जाती है।

Tags
, ,

RELATED POSTS

© 2017 Dew Media News Broadcasting Private Limited