कांग्रेस और बीजेपी कार्यकर्ता आपस में भिड़े, धारा 144 लागू

Guna

सांकेतिक तस्वीर

गुना। शुक्रवार शाम मध्य प्रदेश के गुना जिले के राघोगढ़ में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) और कांग्रेस के कार्यकर्ताओं के बीच जोरदार झड़प हुई। मुसीबत तब शुरू हुई जब कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने कथित तौर पर पार्टी के स्थानीय निकाय चुनाव में माया अग्रवाल के पक्ष में चुनाव प्रचार करने के लिए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की जनता की बैठक में भी बाधा पहुंचाई।

खेलों के लिए मध्य प्रदेश का इंफ्रास्ट्रक्चर सराहनीय, कर सकता है 2024 में राष्ट्रीय खेलों की मेजबानी

पुलिस ने किया आंसू गैस का इस्तेमाल

कथित तौर पर यह झड़प इतने तक ही सीमित नहीं रही इसके बाद एक बड़े पैमाने पर हिंसा और पत्थरबाजी जैसी घटना भी हुई। स्थिति को नियंत्रण में लाने के लिए पुलिस को आंसू गैस के गोले का इस्तेमाल और लाठीचार्ज करना पड़ा। पुलिस की कार्रवाई में चार कांग्रेस कार्यकर्ता घायल हो गए।

नशे में ड्राइविंग करने वालों के खिलाफ दर्ज हो हत्या की कोशिश का मामला: पूर्व सीजेआई

शहर में लागू धारा 144

घटना के तुरंत बाद, शहर में भारी पुलिस बल तैनात किया गया और सीआरपीसी की धारा 144 लागू कर दी गई। कांग्रेस पार्टी अपने कार्यकर्ताओं पर पुलिस द्वारा जोर जबरदस्ती करने का आरोप लगाते हुए, विधायक जयवर्धन सिंह के नेतृत्व में पुलिस थाने का घेराव भी किया। कांग्रेस प्रवक्ता पंकज चतुर्वेदी ने आरोप लगाया कि मुख्यमंत्री शिवराज और भाजपा के नेताओं के इशारे पर यह सब हुआ है।

MP हाईकोर्ट ने POSCO अधिनियम को लेकर केंद्र और राज्य सरकार को दिया निर्देश

बीजेपी के जनसमर्थन से कांग्रेस बौखलाई

बीजेपी के प्रवक्ता रजनीश अग्रवाल ने कहा कि कांग्रेस महासचिव दिग्विजय सिंह के गढ़ में भाजपा को मिले भारी जनसमर्थन से कांग्रेस बौखला गई है। गुना कांग्रेस सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया का गढ़ है, सिंधिया लोकसभा में जिले का प्रतिनिधित्व करते हैं।

युवाओं को प्राथमिकता देते हुए कांग्रेस मध्य प्रदेश में लड़ेगी चुनाव

Tags
,

RELATED POSTS

© 2017 Dew Media News Broadcasting Private Limited