शिवराज सरकार ने अल्टीमेटम को किया अनसुना, महिला टीचरों ने मुंडवाया सिर

Teachers भोपाल। मध्य प्रदेश में संविलियन की मांग कर रहे शिक्षकों ने अपना विरोध जताने के लिए अजीबो गरीब तरीका अपनाया। महिला अध्यापकों ने शनिवार को सरकार के रवैये के खिलाफ मुंडन कराया। शिक्षा विभाग में संविलियन की मांग अध्यापक लम्बे समय से आंदोलन कर रहे हैं। सरकार की वादा खिलाफी से नाराज होकर मुंडन कराने का ऐलान किया था। इसी पर अमल करते हुए आजाद अध्यापक संघ की प्रांताध्यक्ष शिल्पी शिवान सहित 3 महिला अध्यापकों और एक अध्यापक की पत्नी ने सिर मुंडा लिया।

डॉ भीमराव अम्बेडकर जी की प्रतिमा हटाने पर किया धरना प्रदर्शन

1 हजार अध्यापकों के मंडन कराने की घोषणा

आंदोलन के तहत अब तक ज्ञापन, हड़ताल, रैली और प्रदर्शन किए गए लेकिन महिला अध्यापकों ने सरकार की वादा खिलाफी से नाराज होकर ये बड़ा कदम उठाया। 4 महिला अध्यापक और एक अध्यापक की पत्नी द्वारा सिर मुंडाने के बाद संगठन से जुडे़ करीब 1 हजार अध्यापकों ने भी मुंडन कराने की घोषणा की है।

रितुराज तिवारी ने बताया

संगठन के पदाधिकारी रितुराज तिवारी ने बताया कि पहले करीब 25 हजार विरोध प्रदर्शन के लिए जुटने वाले अध्यापकों के आंदोलन के लिए परमिशन नहीं दी गई। बीते दो सप्ताह से प्रशासनिक अधिकारियों ने पदाधिकारियों को शहर में आंदोलन के लिए स्थान देने से ही मना कर दिया। बीएचईएल के जंबूरी मैदान पर विरोध प्रदर्शन के लिए 1 लाख 44 हजार रूपये किराया अधिकारियों ने मांगे।

चारा घोटाला: लालू प्रसाद ने झारखंड उच्च न्यायालय से मांगी जमानत

क्या है मामला

शिक्षा विभाग में संविलियन, मृतक अध्यापकों के परिवार के सदस्यों को अनुकंपा नियुक्ति, वेतन विसंगति, पदोन्नति और सातवें वेतनमान का लाभ देने की मांगों को लेकर अध्यापक आंदोलन चलाए हुए हैं।

 

Tags
, ,

RELATED POSTS

© 2017 Dew Media News Broadcasting Private Limited