Raj Kundra Case: Raj Kundra की ज़मानत याचिका पर अब 20 को होगी सुनवाई, जारी रहेगी न्यायिक हिरासत

Raj Kundra Case: Raj Kundra की ज़मानत याचिका पर अब 20 को होगी सुनवाई, जारी रहेगी न्यायिक हिरासत

अश्लील फ़िल्म निर्माण और ऐप के ज़रिए उन्हें प्रसारित करने के केस में गिरफ़्तार बिज़नेसमैन Raj Kundra की ज़मानत याचिका पर मुंबई सेशंस कोर्ट में अब 20 अगस्त को सुनवाई होगी। अदालत Raj Kundra और उनके सहयोगी रायन थोर्पे की ज़मानत याचिका की सुनवाई कर रही है। इससे पहले मजिस्ट्रेट कोर्ट दोनों को ज़मानत देने से इनकार कर चुकी है। वहीं, बॉम्बे हाई कोर्ट में भी Raj Kundra की ज़मानत याचिका खारिज हो चुकी है।

पोर्नोग्राफिक फ़िल्म केस में मुंबई पुलिस की क्राइम ब्रांच ने Raj को 19 जुलाई की रात को गिरफ़्तार किया था। उन्हें पहले 23 जुलाई तक पुलिस कस्टडी में भेजा गया था, जिसे बढ़ाकर 27 जुलाई तक कर दिया गया था। 27 जुलाई को अदालत ने Raj और रायन को 14 दिनों की न्यायिक हिरासत में भेज दिया था। पिछली सुनवाई के दौरान सेशंस कोर्ट ने अभियोजन पक्ष को जवाब दाखिल करने के लिए कहा था। फ़िलहाल Raj और रायन न्यायिक हिरासत में ही रहेंगे।

Raj ने 28 जुलाई को मजिस्ट्रेट कोर्ट में ज़मानत की अर्ज़ी दाख़िल की थी, जिसे कोर्ट ने नामंजूर कर दिया था। अदालत ने इसके पीछे अपराध की गंभीरता का हवाला दिया है। साथ ही इस बात की आशंका भी जतायी गयी कि केस की जांच चल रही है। ऐसे में ज़मानत देने से सबूतों के साथ छेड़छाड़ करने की आशंका रहेगी। अदालत ने पाया कि जांच अधिकारियों ने बहुत सा डाटा जमा किया है, लेकिन कुछ डाटा आरोपियों द्वारा डिलीट भी कर दिया गया। ऐसे हालात में आरोपी सबूतों से छेड़छाड़ कर सकते हैं।

सात अगस्त को बॉम्बे हाई कोर्ट ने Raj और रायन की ज़मानत याचिका डिसमिस कर दी थी। जस्टिस एएस गडकरी ने कहा था कि मेट्रोपॉलिटन मजिस्ट्रेट द्वारा हिरासत में रिमांड कानून के अनुरूप है और इसमें किसी हस्तक्षेप की आवश्यकता नहीं है।

कोर्ट ने ज़मानत पर Raj Kundra और रायन थोर्पे के वकीलों की दलीलें सुनीं। Raj Kundra की ओर से दाखिल याचिका में कहा गया था कि उन्हें गलत तरीके से गिरफ्तार किया गया है। वहीं, पुलिस का दावा है कि Raj ने सीआरपीसी की धारा 41 (ए) के तहत भेजे गये नोटिस पर साइन करने से मना कर दिया था, इसलिए उन्हें गिरफ्तार करना पड़ा था।